ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
हरियाणा में आपातकाल जैसे हालात: गोपाल राय
December 29, 2018 • Delhi Search

नई दिल्ली, आम आदमी पार्टी ने हरियाणा में अपने नेताओं, पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी का आरोप लगाते हुए खट्टर सरकार पर तीखा हमला किया है। आप नेताओं का आरोप है कि सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक पोस्टर को शेयर करने के खिलाफ पूरे हरियाणा में जगह-जगह आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी हो रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ट्वीट कर हरियाणा की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा, ये कैसी तानाशाही है? खट्टर साहिब को पंजाबियों का मुख्यमंत्री कहने पर कल देर रात 70 युवाओं को गिरफ्तार कर लिया?

गोपाल राय ने पूरे मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके आरोप लगाया कि हरियाणा में पहले हुड्डा और चैटाला जाट-जाट किया करते थे। इस जातिवादी राजनीति से त्रस्त होकर सभी समाज के लोगों ने बीजेपी की सरकार बनवाई थी। अब बीजेपी वाले भी यही करके हरियाणा को बर्बादी की तरफ ले जा रहे हैं। बीजेपी की तरफ से नगर निगम के चुनावों में अखबारों में बाकायदा विज्ञापन दिया गया कि 52 साल में मिला हरियाणा को पहला पंजाबी मुख्यमंत्री, अगर आज गलती की तो 60 साल में फिर मौका नहीं मिलेगा।

गोपाल राय ने कहा कि मैं खट्टर साहब से पूछना चाहता हूं कि अगर आप सिर्फ पंजाबी समाज के मुख्यमंत्री बन गये हैं तो बीजेपी को वोट देने वाले ब्राह्मण, बनिया, यादव, गुर्जर, सैनी, दलित समाज के लोग अपनी समस्याओं को लेकर किसके दरवाजे पर जाएं। खट्टर साहब और बीजेपी को अपनी मानसिकता बदलनी चाहिए। हरियाणा के लोग अब जाति-धर्म की राजनीति बर्दाश्त नहीं करेंगे।

आम आदमी पार्टी के हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने खट्टर सरकार पर तानाशाही का आरोप लगाया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बीती रात आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं के घरों पर पुलिस पहुंची। 10-10 पुलिस वाले एके-47 लेकर रात डेढ़ बजे पहुंचे। हमारे कार्यकर्ताओं को उनके घरों से उठाया गया। हमारे सैकड़ों कार्यकर्ताओं के फोन नहीं मिल रहे। कुछ कार्यकर्ताओं का जब हमें पता चला तो हम लोग वहां पर पहुंच गए। कार्यकर्ताओं से पुलिस ने पूछा कि आपने फेसबुक पर ये पोस्ट क्यों डाली? आपने ये पोस्ट ट्विटर पर क्यों डाली? आपने ये वॉट्सऐप पर क्यों डाली?

नवीन जयहिंद ने दावा किया है कि मेयर चुनाव वाले दिन अखबारों में खबर आई हुई है जिसमें खट्टर साहब ने कहा है कि अगर किसी जाति को वोट देना है तो मैं भी पंजाबी हूं। बीजेपी ने विज्ञापन दिया कि पहलीबार मिला है पंजाबी मुख्यमंत्री। इस मौके को खो मत देना। अब यही पोस्ट फेसबुक पर कार्यकर्ताओं ने ये डाल दी। किसी ने ट्वीट कर दिया। किसी ने व्हाट्स ऐप पर भेज दी। अब सिर्फ इस आधार पर बिना किसी नोटिस के रात को डेढ़-डेढ़ बजे हमारे कार्यकर्ताओं को उठाया गया और उनका जुर्म भी नहीं बताया जा रहा है। जयहिंद ने खट्टर सरकार पर आरोप लगाया है कि पूरे हरियाणे को लठतंत्र से चलाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं को एके 47 लेकर गये पुलिसवालों ने रात में डेढ़- डेढ़ बजे उठाया। हम लोग कोई आतंकवादी हैं क्या?