ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
योगेन्द्र यादव ने किया स्वराज इंडिया दिल्ली प्रदेश कार्यालय का उद्घाटन
January 6, 2019 • Delhi Search

नई दिल्ली, नवगठित राजनीतिक पार्टी स्वराज इंडिया दिल्ली सहित भारत के अलग-अलग राज्यों में संगठन विस्तार पर बल दे रहा है। इसी कड़ी में रविवार को राजधानी दिल्ली में स्वराज इंडिया दिल्ली प्रदेश कार्यालय का उद्घाटन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेन्द्र यादव व राष्ट्रीय महासचिव अजित झा के द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष कर्नल जयवीर ने की। वहीं इस मौके पर ओटो, टैक्सी, ई-रिक्शा के मोर्चे की भी घोषणा की गई, जिसका अध्यक्ष रमण कुमार को बनाया गया।

इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेन्द्र यादव ने कहा कि स्वराज इंडिया पूर्व में भी दिल्ली के गंभीर मुद्दे पर रचनात्मक कार्य करती रही है। पर्यावरण के मुद्दे पर सरकार को घेरने के काम से लेकर दिल्ली में बढ़ते नशाखोरी के खिलाफ स्वराज इंडिया हमेशा अपना स्पष्ट रुख रहा है। दिल्ली में शराब के ठेके के खिलाफ प्रशांत भूषण की अगुवाई में दिल्ली में अभियान छेड़ रखा था। नतीजतन कुछ दिनों के लिए शराब के ठेके का लाइसेंस बंद कर दिया गया था किंतु फिर वही हाल है। इसी प्रकार स्वराज इंडिया दिल्ली के ऑटो चालकों की समस्याओं को मजबूती से उठाता रहा है।

उन्होंने बेरोजगारी की समस्याओं को किसान से भी गंभीर समस्या बताया और उन्होंने कहा कि आगामी 27 जनवरी को देश के अलग-अलग ऐसे संगठन जो बेरोजगारी की लड़ाई लड़ रही है उनको एक छत के नीचे इकट्ठे करेंगे। दिल्ली देहात की समस्याओं को लेकर स्वराज इंडिया शुरू से गंभीर है। लैंड पूलिंग योजना को किसान हितैषी बनाकर जल्द से जल्द लागू करवाने के लिए पार्टी ने शहरी विकास मंत्रालय और डीडीए पर लगातार दबाव बनाए रखा।

इस अवसर पर स्वराज इंडिया दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष कर्नल जयवीर ने कहा कि दिल्ली में नशा व पर्यावरण दो गंभीर विषय है। आने वाले दिनों में स्वराज इंडिया दिल्ली प्रदेश, किसान-नौजवान के साथ-साथ दिल्ली के अन्य मुद्दे पर भी जनता के भलाई की लड़ाई लड़ेगी। साथ ही उन्होंने दिल्ली के जनता से आईकैन से जुड़ने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस अभियान से जुड़ने के लिए कोई राजनीतिक बंदिशें नही है, किन्तु राजनीतिक सुचिता के लिए सभी लोगों को इस मुहिम से जुड़ना चाहिए।

इस मौके पर उपस्थित प्रदेश महासचिव नवनीत तिवारी ने कहा कि किसान नौजवान के एजेंडा को राजनीति के केंद्र में लाने के उद्देश्य से स्वराज इंडिया की दिल्ली इकाई आने वाले समय में युवाओं में बेरोजगारी के मुद्दे को मजबूती से उठाएगी। दिल्ली सरकार के रोजगार पर वादों का आंकलन और दावों की जाँच के अलावा, स्वराज इंडिया ने तय किया है कि नौकरियों में अवसरों की घोर कमी और भर्ती परीक्षाओं में भ्रष्टाचार को लेकर देशभर में चल रहे युवा-हल्लाबोल आंदोलन का समर्थन करती है।