ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
मुख्य सचिव ने दिल्ली महिला आयोग का किया दौरा
January 21, 2019 • Delhi Search

नई दिल्ली, दिल्ली के मुख्य सचिव विजय कुमार देव ने सोमवार को दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) के ऑफिस सी-ब्लॉक, विकास भवन का दौरा किया। आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल पिछले हफ्ते मुख्य सचिव से मिली थीं, मीटिंग के दौरान मुख्य सचिव ने दिल्ली महिला आयोग के ऑफिस का दौरा करने और आयोग का कामकाज देखने की इच्छा व्यक्त की थी। दौरे के दौरान उन्होंने आयोग के विभिन्न कार्यक्रमों से जुड़े स्टाफ से मुलाकात की और आयोग के कामकाज और उपलब्धियों को सराहा। विजय कुमार देव ने आयोग को अपनी तरफ से पूरी सहायता देने का अश्वासन दिया। उनके साथ महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव रश्मि कृष्णन भी मौजूद थीं। दौरे के दौरान आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मुख्य सचिव को आयोग द्वारा पिछले साढ़े तीन सालों के दौरान किए गए कार्यों के बारे में बताया और आयोग के विभिन्न कार्यक्रमों के बाबत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 2015 में आयोग के पुनर्गठन के बाद से आयोग ने 52,473 शिकायतों पर काम किया, जो कि पिछले आयोग द्वारा आठ साल में किये गए काम से 700 प्रतिशत ज्यादा है।

आयोग की अध्यक्ष ने स्वयं तीन साल में 2000 से ज्यादा शिकायतों पर काम किया है, जबकि पिछली अध्यक्ष ने आठ साल में केवल एक शिकायत पर काम किया था। उन्होंने बताया कि आयोग ने कई शेल्टर होम, कम्युनिटी और बलात्कार पीड़िताओं के यहां 800 से ज्यादा विजिट की है। डीसीडब्ल्यू अध्यक्ष ने सरकार को नीतिगत मामलों में 175 से ज्यादा सिफारिश की हैं, जबकि पिछले आयोग ने आठ साल में केवल एक सिफारिश सरकार को की थी। आयोग ने बलात्कार पीड़िता सहायता केंद्र के द्वारा आयोग ने यौन अपराधों की पीड़िताओं की सहायता के लिए अदालतों में पिछले तीन साल में 35,606 तारीखों पर उपस्थिति दर्ज करवाई। 11,670 यौन हिंसा की पीड़िताओं की काउन्सलिंग सीआईसी के द्वारा की और आयोग के हस्तक्षेप से यौन हिंसा के मामलों में 6,952 प्राथमिकी दर्ज करवाई।

पिछले ढ़ाई साल में 181 महिला हेल्पलाइन पर 2.35 लाख फोन कॉल पर कार्यवाही की गई और मोबाइल हेल्पलाइन कार्यक्रम के द्वारा मुसीबत में फंसी महिलाओं की सहायता के लिए 43,497 विजिट की गई। इसके अलावा आयोग के महिला पंचायत केन्द्रों में 10,619 से ज्यादा शिकायतें दर्ज की गई और 2 साल में 15,843 कम्युनिटी मीटिंग की गई। आयोग की अध्यक्ष ने मुख्य सचिव को आयोग के सामने आने आने वाली परेशानियों के बारे में भी बताया, जिनमें ऑफिस में जगह की कमी और स्टाफ की कमी हैं। स्वाति मालीवाल ने बताया कि आयोग के ऑफिस में जगह की कमी की वजह से शिकायतकर्ताओं की बहुत भीड़ हो जाती है जो कि मुख्य सचिव ने स्वयं भी देखा। मुख्य सचिव ने पूरा सहयोग देने का भरोसा दिया और कहा कि आयोग को प्राथमिकता पर अतिरिक्त जगह प्रदान की जाएगी। उन्होंने मुसीबत में फंसी महिलाओं की सहायता के लिए कई परेशानियों के बावजूद दिन-रात काम करने वाले आयोग के स्टाफ की तारीफ की। उन्होंने भरोसा दिया कि पुलिस और आयोग के कार्य संबंधों को धाराप्रवाह बनाने के लिए कदम उठाये जाएंगे।