ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
प्रियंका गांधी की झलक पाने को उमडा जनसैलाव
April 6, 2019 • Delhi Search

गाजियाबाद, गाजियाबाद सीट से कांग्रेस प्रत्याशी डॉली शर्मा के समर्थन में शुक्रवार को कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी शुक्रवार को गाजियाबाद पहुंचीं। यहां उन्होंने पहले घंटाघर पहुंचकर सरदार भगत सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और फिर वहीं से रोड शो शुरू कर दिया। इस दौरान डॉली शर्मा भी उनके साथ रहीं। करीब 2 घंटे चला प्रियंका गांधी का रोड शो मालीवाड़ा चौक पर जाकर समाप्त हुआ। रोड शो के समापन के बाद प्रियंका ने चौराहे के आसपास जमा लोगों को संबोधित किया। अपने 11 मिनट के संबोधन में प्रियंका ने स्थानीय मुद्दों से भाषण की शुरुआत की और कांग्रेस की प्रत्याशी डॉली शर्मा को युवा, शिक्षित, ईमानदार और लोगों के बीच रहने वाली नेता बताते हुए उनके कामों के आधार पर जनता से उन्हें वोट देने की अपील की।

इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि पांच साल पीएम मोदी ने कुछ नहीं किया है। वह केवल विदेशों में घूमते रहे, उन्होंने जापान के लोगों को गले लगाया, चीन जाकर गले मिले, अफ्रीका गए, अमेरिका गए, लेकिन पिछले 5 साल में उन्हें 5 मिनट का भी वक्त नहीं मिला कि वह अपने संसदीय क्षेत्र बनारस में जाकर किसी गरीब परिवार को अपने गले लगाते। प्रियंका ने कहा कि यह सरकार प्रचार की सरकार है। इनका प्रचार इतना तेज है कि मैं भी धोखे मैं आ गई थी। 15 दिन पहले जब मैं बनारस गई तो सोचा कि मोदी जी ने बहुत काम किया होगा, लोगों के बीच गए होंगे, मगर वहां के लोगों ने मुझे बताया कि मोदी जी आए तो सही मगर बड़ी-बड़ी रैलियां करके लौट गए वह वहां किसी एक परिवार से भी नहीं मिले।

प्रियंका ने कहा कि अगर पीएम मोदी ने काम किया है तो उसकी उपलब्धि गिनाएं, इसके बजाय नेहरू और इंदिरा गांधी ने ये किया, वो किया कह रहे हैं। इसका मतलब इनके पास बताने को कुछ नहीं है। प्रियंका गांधी ने कहा कि जो लोग अपने कामों को एहसान की तरह बताते हैं उनसे कहिए कि लोकतंत्र उन्हें यह अधिकार देता है कि सरकार उनके लिए शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार और विकास कार्य करे। प्रियंका ने पीएम नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह लोकतंत्र को कमजोर कर रहे हैं। जो कोई भी सवाल करता है उसके खिलाफ कार्रवाई हो रही है, चाहे वह नौजवान हो, किसान हो, आशा बहू हो या फिर शिक्षा मित्र हो।

किसानों के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि यदि भाजपा की सरकार राष्ट्रवादी सरकार है तो जब पीएम से मिलने के लिए किसान नंगे पैर दिल्ली आए थे तो उनसे मिलने की जगह उन पर गोलियां क्यों बरसाई गईं। प्रियंका गांधी ने एक और सवाल उठाया यदि आप की राष्ट्रवादी सरकार है तो हर शहीद को सम्मान मिलना चाहिए फिर चाहे वह हिंदू हो, मुस्लिम या फिर विपक्षी दल के नेता का पिता हो।

व्यापारियों का मुद्दा उठाते हुए प्रियंका ने कहा कि जीएसटी ने छोटे कारोबारियों और व्यापारियों को तबाह कर दिया है। मैं जब भदोही गई थी वहां के 60 प्रतिशत छोटे उद्योग धंधे केवल जीएसटी की वजह से ही बंद हो गए हैं। मोदी जी के पास 5 साल के बाद भी गिनाने के लिए एक भी उपलब्धि नहीं है। भाषण के अंत में उन्होंने राहुल गांधी का नाम लेते हुए कहा कि राहुल ने जो घोषणापत्र जारी किया है इसमें हर वर्ग की जरूरतों का ध्यान रखा गया है।