ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
प्रियंका के रोड शो से कांग्रेस में नई शक्ति का संचार दिखाई दिया
April 10, 2019 • Delhi Search

बिजनौर/सहारनपुर चुनावी जनसभा स्थगित होने के बाद मंगलवार को पहुंचीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यहां दो किमी का रोड शो किया। इस दौरान सड़क के दोनों ओर से फूलों की वर्षा की गई। रोड शो से कांग्रेस में नई शक्ति का संचार दिखाई दिया।गौरतलब है कि 8 अप्रैल को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी व ज्योतिरादित्य सिंधिया का चुनावी जनसभा का कार्यक्रम था, लेकिन मौसम खराब होने से कार्यक्रम स्थगित हो गया था। अचानक मंगलवार सुबह पता चला कि प्रियंका गांधी का रोड शो होगा। प्रियंका गांधी का हेलीकॉप्टर करीब 12 बजे जिला मुख्यालय के दिल्ली-पौड़ी राष्ट्रीय राजमार्ग पर सेंट मेरी स्कूल के पास मैदान में उतरा। यहां से वह कांग्रेस प्रत्याशी के चुनावी कार्यालय पहुंचीं। उसके बाद रोड शो शुरू हुआ। रोड शो का काफिला मुख्य डाकघर चौराहे सेहोता हुआ सदर बाजार, सराफा बाजार, पुरानी तहसील, कस्साबान के मुख्य मार्ग से होता हुआ जाटान पुलिस चौकी पर समाप्त हो गया। पुरानी तहसील के पास जब एक बच्ची ठीक से प्रियंका गांधी को नहीं देख पा रही थी तब प्रियंका ने महिला को इशारा किया और बच्ची का अभिवादन स्वीकार किया। इस दौरान ढाली बाजार के पास भाजपा का झंडा लेकर मोदी के समर्थन में नारे लगा रहे युवाओं पर प्रियंका गांधी ने गले में पड़ी सारी मालाएं फेंक दी। इसके बाद युवक वहां से चले लिए। उधर सहारनपुर में प्रियंका गांधी ने कांग्रेस के सहारनपुर लोकसभा के प्रत्याशी इमरान मसूद के समर्थन में रोड शो किया। उल्लेखनीय है कि विगत दिवस कांग्रेस की रैली का आयोजन किया गया था जिसमें कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी एवं राष्ट्रीय महासचिव व पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी तथा राष्ट्रीय महासचिव व पश्चिमी उप्र ज्योतिरादित्य सिंधिया को सहारनपुर आना था, परन्तु मौसम खराब होने से अनुमति नहीं मिली थी। प्रियंका गांधी का रोड शो गोल कोठी से शुरू होकर रायवाला होते हुए थाना कुतुबशेर स्थित रेंच के पुल पर पहुंचकर सम्पन्न हुआ। रोड शो के दौरान एक खुली जीप पर प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस प्रत्याशी व अन्य नेता सवार थे। प्रियंका गांधी ने लोगों का अभिवादन स्वीकार कर चल रही थीं। रोड शो के दौरान प्रियंका गांधी ने कुछ समय पैदल चलकर मतदाताओं का अभिवादन स्वीकार किया।