ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
पुलवामा हमले का राजनीतिकरण नहीं करे कांग्रेसः अमित शाह
February 21, 2019 • Delhi Search

राजमुंदरी (आंध्र प्रदेश), भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि वह पुलवामा आतंकवादी हमले का राजनीतिकरण नहीं करें क्योंकि उसे इससे कोई फायदा होने वाला नहीं है। श्री शाह ने गुरुवार को शक्ति केंद्र प्रमुख सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस पुलवामा हमले की घटना को अपने राजनीतिक लाभ का जरिया बना रही है। कांग्रेस हमले वाले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक कार्यक्रम में मौजूदगी को मसला बना रही है किंतु वह उसे बताना चाहते हैं कि श्री मोदी 24 घंटे में से 18 घंटे लगातार काम करने वाले व्यक्ति हैं। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा के प्रति श्री मोदी की प्रतिबद्धता पर कांग्रेस के आरोपों का देश की जनता पर कोई असर नहीं होने वाला है। उन्होंने कहा, मैं कांग्रेस को बताना चाहता हूं कि वह पुलवामा हमले का राजनीतिकरण नहीं करें, क्योंकि उसे इससे कोई फायदा नहीं होने वाला है।

उन्होंने कहा कि भाजपा देश में एकमात्र ऐसा दल है जो आतंकवाद को कतई नजरदांज नहीं करती है। पुलवामा हमले के बाद श्री मोदी ने सेना को खुली स्वतंत्र देते हुए उसे निपटने के लिए स्थान और समय चुनने की आजादी दे दी है। पूरा देश इस हमले में शहीद हुए परिवारों के पीछे चट्टान की तरह खड़ा है।
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू पर निशाना साधते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा, उन्हें (श्री नायडू) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पर तो भरोसा है लेकिन देश के प्रधानमंत्री पर नहीं है। किसी को अपने राजनीतिक लाभ के लिए इस स्तर तक नहीं गिरना चाहिए। मुख्यमंत्री ने दिल्ली. पश्चिम बंगाल. तमिलनाडु और कर्नाटक में धरना दिया। यदि धरने पर बैठने की इतनी ही इच्छा थी तो उन्हें अपनी पार्टी के सामने बैठना चाहिए था जिसने पांच साल से आंध्र प्रदेश के विकास के लिए कोई कार्य नहीं किया। केंद्र सरकार की तरफ से राज्य को दी गयी विकास योजनाओं का उल्लेख करते हुए श्री शाह ने कहा कि आईआईटी. एनआईटी. आईआईएम. एम्स. एचपीसील. केंद्र और आदिवासी विश्वविद्यालय समेत पिछले पांच साल में आंध्र प्रदेश को 20 बड़े संस्थान दिए गए। मुख्यमंत्री का कहना है कि भाजपा ने विकास की गति को थाम दिया है किंतु आंध्र प्रदेश पुर्नगठन कानून के तहत 14 कार्यों में से 10 मोदी सरकार के पांच वर्ष के कार्यकाल में पूरे किए जा चुके हैं। तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) और जगनमोहन रेड्डी की वाईआरएसआर कांग्रेस को भ्रष्ट बताते हुए उन्होंने कहा कि यह परिवारवाद वाली पार्टियां हैं जिन्होंने आंध्र प्रदेश के लिए कुछ नहीं किया है।