ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
पब्लिक अवेयरनेस सेल रोहिणी दिल्ली ने पुलवामा हमले में शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि
February 16, 2019 • Delhi Search

नई दिल्ली, पब्लिक अवेयरनेस सेल रोहिणी दिल्ली द्वारा सेक्टर 5 सेक्टर 6 की जनता के साथ कैंडल मार्च निकाल कर जम्मू कश्मीर के पुलवामा में कायराना आतंकी हमले में हुए शहीद सीआरपीएफ के जवानों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। यह कैंडल मार्च सेक्टर 5 से सेक्टर 6 रोहिणी तक निकाला गया

जिसमें सैकडों की संख्या में लोगों ने शामिल होकर शहीदों को अपनी भावभीनी श्रद्वांजलि दी। इस मौके पर पूर्व मंडल अध्य्क्ष संदीप कालिया ने शहीदो को नमन करते हुए कहा कि हमला करने वालों को बक्शा नही जायेगा। जिस तरह हमारे निर्दोष जवानों पर कायराना तरीके से हमला किया है, हम सामने से वार करके उनको जल्द ही मुह तोड जबाब देंगे। आप के संगठन मंत्री गुरदीप दत्ता ने इस हमले की घोर निंदा करते हुए शहीदों को नमन कर भावभीनी श्रद्वाजली दी और कहा कि धोखे से किया यह हमला काफी निंदनीय है। केन्द्र सरकार और देश के प्रधानमंत्री इस धोखे से किए हमले का जबाब जल्द से जल्द दें। एक सर के बदले सौ सर लाकर दें। सवदेशी जागरण मंच के राहुल जिंदल ने शहीदों को नमन करते हुए कहा कि इस समय देश के सभी दलों को एकजुट होकर दुश्मन की इस घिनौनी हरकत का करारा जबा देना चाहिए, ताकि जिन माताओं के लाल व जिन बहनों के भाई और जिन पत्नियों का सुहाग उजडे है, उनके परिवारों को कुछ शकुन मिले और शहीदों की आत्माओं को शान्ति मिल सके। हमारी संस्था व उत्तर-पूर्वी जिले की जनता इस कायराना हमले की निंदा करते है। राजू सचदेवा ने मोमबत्ती जलाकर पुलवामा में हुए आतंकी हमले की निंदा करते हुए देश के उन महान बलिदान देने वाले अपने बहादुर जवानों को मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि दी है और कहा हम उनके परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करते है। कैन्डल मार्च में शामिल संतोष पांडे ने शहीद जवानों को नमन करते हुए भावभीनी श्रद्वांजली दी और कहा कि देश के प्रधानमंत्री इस हमले की जबाबी कार्यवाही जरुर करें। इस दर्दनांक कायराना हमला करने वालो से शीघ्र बदला लिया जाये। इस कैंडल मार्च में इलाके की महिलाओ ने अपने शहीद बेटों और वहनों ने अपने शहीद भाईयों को श्रद्वांजली दी और कहा कि जो भी जवान शहीद हुए है वो किसी ना किसी के बेटे या भाई तो होंगे ही, हम भी उनको उसी रुप में मानते हुए नमन करते है और उनके परिवारों के प्रति साहनुभूति प्रकट करते है। इस कैन्डल मार्च में भारी संख्या में स्थानीय जनता ने हिस्सा लिया