ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
दिव्यांग बच्चों की सेवा ईश्वर की सच्ची अराधना के समान है: संजय पुरी
December 23, 2018 • Delhi Search

अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के अवसर पर जनक पुरी स्थित भारती कॉलेज के मैदान में दिव्यंगों के ओलिंपिक का आयोजन किया गया इस में दिल्ली / एन सी आर में स्थित लगभग 100 से अधिक संगठन, स्वयं सेवी संस्थाएं, जो दिव्यंगो के लिए समर्पित है, अपने प्रतिस्पर्धा प्रत्याशियों एवं उनके कोच के साथ इसमें लगभग 2000 बच्चों ने भाग लियाप् इस का आयोजन आशीर्वाद स्पेशल एजुकेशन स्कूल, जो संजीवनी समाज सेवा समिति की एक इकाई है की ओर से किया गयाप् दिव्यां ग बच्चों ने मार्चपास्ट के बाद ओलिंपिक की मशाल जलने के बाद विभिन्न खेलों में भाग लिया। यह कार्यक्रम शुभारम्भ सुबह 8 बजे से शुरू हुआ शाम 5 बजे इस का समापन हुआ खेल प्रतियोगिता में विजयी सभी दिव्यांग बच्चों को पुरुस्कार से सम्मानित किया गया व प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी बच्चों प्रशस्ति पत्र दिए गये।

इस मौके पर श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर स्वामी सर्वदानंद जी महाराज अपने आशीर्वचन दिए। सेना वायु सुरक्षा के महा-निदेशक लेफ्टिनेंट जनरल ए. पी. सिंह मुख्य-अतिथि थेप् इसके अतिरिक्त दिल्ली के अनेक गणमान्यभारत सरकार के विभिन्न संभाग, पार्षद, स्वयं सेवी संस्थाएं तथा सम्पन्न व्यक्ति, जो दिव्यंगों के प्रति सहानुभूति रखते हैं, इस कार्यक्रम में तन, मन, धन से सम्मिलित हुऐ। इस केंद्र के एक अत्यंत प्रतिभाशाली छात्र प्रतीक जैन ने सन 2015-16 में शिकागो में दिव्यंगो के लिए आयोजित अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में पदक प्राप्त किया था।

इस अवसर पर बोलते हुए जनक पुरी के पूर्व निगम पार्षद संजय पुरी ने कहा कि दिव्यांग बच्चों की सेवा ईश्वर की सच्ची अराधना के समान है उन्होंने आगे कहा कि डा. शुक्ला ने दिन रात दिल्ली के विभिन्न व्यक्तियों, अधिकारीयों एवं संगठनों से मिल कर दिव्यांग बच्चों के प्रति स्नेह का एक सकरात्मक वातावरण समाज में तैयार किया है जिस से प्रेरित होकर बहुत लोग आगे आ कर इन बच्चों को सम्मान के साथ आगे बढ़ने का अवसर प्रदान करने के लिए आर्थिक सहायता दे रहे हैं। पुरी ने डा. शुक्ला को अंग वस्त्र व एक पौधा भेट करते हुये कहा कि डा. शुक्ला ने अपना पूरा जीवन दिव्यांग बच्चों की सेवा को समर्पित कर कर दिया है सम्मान के असली हकदार तो ये हैं.