ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर अस्पताल रोहिणी में सफाई अभियान
February 23, 2019 • Delhi Search

दिल्ली, 23 फरवरी, 2019: संत निरंकारी मिशन के पूर्व आध्यात्मिक मार्गदर्शक बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के 65वें जन्म दिवस के अवसर पर आज मिशन ने, संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के तत्वधान में एक विशाल सफाई व वृक्षारोपण अभियान देश व दूर-देशों में चलाया। बाबा जी कहते थे ‘प्रदूषण बाहर हो या अंदर, दोनों हानिकारक हैं। इस अभियान में तीन लाख पचास हजार से अधिक चैरिटेबल फाउंडेशन के सदस्यों, निरंकारी सेवादल के भाई-बहनों तथा मिशन के अन्य श्रद्धालु-भक्तों ने भाग लिया। इस अभियान के अंतर्गत फाउंडेशन ने देशभर के 925 सरकारी अस्पतालों में सफाई अभियान चलाया। इन अस्पतालों के बाहर तथा परिसर के अंदर स्थित पार्को व अन्य सार्वजनिक स्थलों में पौधारोपण का कार्यक्रम भी चलाया। पिछले वर्ष मिशन ने देशभर के 664 सरकारी अस्पतालों में यह अभियान चलाया था। प्रत्येक केंद्र पर आज इस कार्यक्रम के लिए फाउंडेशन के सदस्य, सेवादल तथा मिशन के अन्य श्रद्धालु भक्त प्रातः 8:00 बजे से पूर्व अपने निर्धारित स्थानों पर एकत्रित होने शुरु हो गये और सुमिरन तथा प्रार्थना के पश्चात् यह अभियान आरम्भ हुआ और दोपहर 12:00 बजे तक चला


इसी कड़ी में डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर अस्पताल रोहिणी में सफाई अभियान करके सद्गुरू बाबा हरदेव सिंह जी महाराज को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की अभियान के दौरान समाज के गणमान्य व्यक्तियों ने भी स्वंसेवकों को प्रोत्साहित किया जिन में संयोजक मोती नगर संत सुरजीत सिंह नशीला महेन्दर गोयल एम. एल. ए.आलोक शर्मा अध्य्क्ष निर्माण समिति जगदीश यादव पूर्व अध्य्क्ष पिछड़ा आयोग विजय पाल भा.ज.पा कनिका संदीप जैन निगम पार्षद आकाश रावत थाना अध्य्क्ष रोहिणी सैक्टर 7 बॉबी सहगल सदस्य रोगी कल्याण समिति आर के मेहता इस अवसर पर दिल्ली सर्च से बातचीत करते हुए गुलशन सचदेवा ने बताया वर्ष 2010 में जब से संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन का गठन हुआ, यह अभियान फाउंडेशन के तत्वावधान में आयोजित किया जा रहा है। फाउंडेशन स्वास्थ्य, शिक्षा, व्यवसायिक प्रशिक्षण के क्षेत्रों में समाज के प्रति महत्वपूर्ण योगदान देता आ रहा है। जब से 'स्वच्छ भारत अभियान' आरंभ हुआ, फाउंडेशन की ओर से भी प्रतिवर्ष अतिरिक्त सफाई अभियान आयोजित किये जाते हैं और राष्ट्रीय स्मारकों, समुद्रों तथा नदियों के किनारों, रेलवे स्टेशनों, अस्पतालों, पाकों तथा अन्य सार्वजनिक स्थानों पर विशेष ध्यान दिया जाता रहा है। मिशन के मानवता की सेवा के प्रति इस विशाल योगदान को मान्यता प्रदान करते हुए भारत सरकार ने सितम्बर, 2015 में इसे 'स्वच्छ भारत अभियान' का 'ब्रांड अम्बेसेडर' घोषित किया।
इसके अतिरिक्त संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन द्वारा स्वैच्छिक रक्तदान अभियान भी निरंतर चलता आ रहा है। देशभर में हर वर्ष लगभग 500 रक्तदान शिविर आयोजित किये जाते हैं। मिशन की ओर से 1986 से लेकर अब तक 5000 से भी अधिक रक्तदान शिविर आयोजित किये जा चुके हैं जिनमें लगभग 10,00,000 यूनिट रक्त दान किया गया। फाउंडेशन द्वारा चार अस्पताल, 151 डिस्पेस्रियां तथा आधा दर्जन के करीब पैथालोजिकल लैबोरिट्ररी धर्मार्थ चलाई जा रही हैं। 26 जनवरी, 2016 से मिशन का एक ब्लड बैंक भी है जो विलेपार्ले मुम्बई में संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के तत्वावधान में चलाया जा रहा है। इनके अतिरिक्त दो डिग्री स्कूल चलाये जा रहे हैं। इसी प्रकार विधवाओं तथा अन्य जरूरतमंद महिलाओं के लिये लगभग 70 स्थानों पर सिलाई-कढ़ाई प्रशिक्षण केन्द्र भी चलाये जा रहे हैं। फाउंडेशन की ओर से समय-समय पर आँखों के ऑपरेशन, स्वास्थ जांच तथा अनेमियां नियंत्रण के लिए विशेष शिविर आयोजित किये जा रहे हैं।