ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
केजरीवाल दिल्ली की जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा कर रहे हैं: विजेंद्र गुप्ता
February 21, 2019 • Delhi Search

नई दिल्ली, । दिल्ली विधानसभा के शुक्रवार से शुरू हो रहे बजट सत्र में विपक्षी दल जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनूय) में भारत विरोधी नारेबाजी करने वाले टुकड़े-टुकड़े गैंग की फाइल लटकाने, मतदाता सूची से वोट कटने और सत्तारूढ़ दल के कांग्रेस से समझौते के प्रस्ताव सहित तमाम मुद्दों को उठाएगा।
दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने गुरुवार को यहां पार्टी कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) पर राष्ट्रद्रोहियों और आतंकवाद समर्थकों को संरक्षण देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बताएं कि आखिर क्यों वह टुकड़े-टुकड़े गैंग की फाइल को अटका रहे हैं। उन्होंने कहा कि दोषियों के खिलाफ कानून अपना काम कर रहा है और मामला अदालत में विचाराधीन है। ऐसे में इसमें व्यवधान डालने से साफ है कि आप ऐसी शक्तियों से मिली हुई है।
सोशल मीडिआ में वायरल हो रहे मुख्यमंत्री केजरीवाल के एक वीडियो का हवाला देते हुए विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि तत्तकालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ भ्रष्टाचार के सबूतों की फाइल लेकर घूमने वाले केजरीवाल आज लगातार कांग्रेस से ही समझौता करने के लिए प्रयास कर रहे हैं। ऐसा करके केजरीवाल दिल्ली की जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह केजरीवाल की दिल्ली में प्रसिद्धि के लगातार गिर रहे ग्राफ के कारण उनकी बौखलाहट को दर्शाता है। दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा की मांग को उन्होंने नाकामायाबियों को छिपाने के लिए नौटंकी करार देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल की नकारात्मक राजनीति के कारण पूर्ण राज्य की मांग को आघात पहुंचा है।
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा सदन में सरकार से ऐसे सवाल पूछेगी जिनसे आप सरकार भाग रही है। उन्होंने कहा कि भले ही इस दौरान सदन में कितना भी हंगामा हो, हम सवाल करेंगे। गुप्ता ने कहा कि आम आदमी पार्टी दिल्ली में फोन करके लोगों में भ्रम फैला रही है कि चार साल में 24 लाख वोट कटे हैं। उन्होंने कहा कि यह मुद्दा भी सदन में उठेगा। उन्होंने कहा कि इस संबंध में विधानसभा में 27 जुलाई को पास प्रस्ताव को भेजे गए चुनाव आयोग के जवाब पर भी चर्चा की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि अनधिकृत कालोनियों को नियमित करने के मामले पर केजरीवाल सरकार दिल्ली की जनता को गुमराह कर रही है। आयुष्मान भारत योजना को दिल्ली में लागू न करके मुख्यमंत्री केजरीवाल ने जनता के साथ बहुत बड़ा विश्वासघात किया है।