ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
कर्नाटक राजनीतिक संकट: युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं का हरियाणा रिसॉर्ट के बाहर प्रदर्शन
January 16, 2019 • Delhi Search

नई दिल्ली युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने बुधवार को हरियाणा के उस रिसॉर्ट के बाहर प्रदर्शन किया जहां कर्नाटक के भाजपा विधायक डेरा डाले हुए हैं। भाजपा विधायक सत्तारूढ़ जदएस-कांग्रेस गठबंधन द्वारा विधायकों की खरीद फरोख्त की किसी भी कोशिश को नाकाम करने के प्रयास के तहत रिसॉर्ट में रुके हुए हैं। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस महासचिव प्रदीप सिंह के नेतृत्व में युवा कांग्रेस के करीब 20 कार्यकर्ताओं ने गुड़गांव के बाहरी हिस्से में स्थित पांच सितारा आईटीसी ग्रैंड भारत रिसॉर्ट के बाहर राजग के खिलाफ नारेबाजी की।

प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि भाजपा संविधान का अपमान कर रही है और देश में लोकतंत्र की हत्या कर रही है। इस बीच, सूत्रों ने बताया कि रिसॉर्ट में ठहरे पार्टी विधायकों के साथ भाजपा की कर्नाटक इकाई के प्रमुख बी एस येदियुरप्पा के बैठक करने और राज्य के मौजूदा हालात पर चर्चा करने की संभावना है। उन्होंने बताया कि भाजपा के 104 विधायक तब तक रिसॉर्ट में रहेंगे, जब तक पार्टी उन्हें कर्नाटक लौटने की अनुमति नहीं दे देती। सूत्रों ने बताया कि खरीद फरोख्त की किसी भी कोशिश से बचाने के लिए, पहली बार विधायक बने भाजपा सदस्यों के मोबाइल फोन अलग रखे गए हैं। उल्लेखनीय है कि कर्नाटक सत्तारूढ़ गठबंधन और भाजपा के विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोपों के बीच दो निर्दलीय विधायकों ने मंगलवार को सरकार से समर्थन वापस ले लिया। केंद्रीय मंत्री डी वी सदानंद गौड़ा ने मंगलवार को कहा था कि कांग्रेस-जदएस गठबंधन सरकार गिरने की स्थिति में भाजपा कर्नाटक में अपना दावा पेश करेगी। मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने हालांकि दोहराया कि उन्हें 120 विधायकों का समर्थन प्राप्त किया था। उन्होंने आरोप लगाया कि येदियुरप्पा उनकी सरकार को अस्थिर करने की नाकाम कोशिश कर रहे है। 224 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 104, कांग्रेस के 79 और जदएस के 37 सदस्य हैं। इसके अलावा बसपा का एक, केपीजेपी का एक और एक निर्दलीय सदस्य है।