ALL delhi Business Ghaziabad Faridabad Noida STATE vichar
"एक शाम, श्याम बाबा के नाम" खाटू नरेश श्याम बाबा के कीर्तन-भजन का आयोजन किया
December 30, 2018 • Delhi Search

शाम्भवी, एक शक्ति, एक पहचान द्वारा नववर्ष की पूर्वसंध्या पर 24 दिसंबर को हैरिटेज ग्रैंड, ब्रिटेनिया चौक में "एक शाम, श्याम बाबा के नाम" खाटू नरेश श्याम बाबा के कीर्तन-भजन का आयोजन किया गया। जिसमें शाम्भवी के सभी सदस्यों को उनके जीवन साथी संग आमंत्रित किया गया। यहां श्याम बाबा के कर्णप्रिय भजनों के लिए प्रसिद्ध श्री संजय मित्तल जी, अश्विनी शर्मा 'मोंटू'जी, महावीर अग्रवाल जी ने अपनी मधुर आवाज़ में भजन सुनाकर प्रभु को याद किया और मधुरम समां बांधा। श्याम बाबा का दरबार विशेष रूप से कलकत्ता से मंगवाया गया जिसे पी सी गोयल जी ने सजाया संवारा। सभी श्याम प्रेमियों ने मधुर भजनों का आनंद लिया, नाच - गा कर प्रभु से अपनी कृपा बिखेरने का आग्रह किया। लगभग 400 श्याम प्रेमियों ने रंग-बिरंगे फूलों सा रंगीन रास आयोजित किया। फल, फूल, मेवा की वर्षा हुई। भजन श्रवण का कार्यक्रम 6:30 बजे प्रारंभ होकर लगभग 10:30 बजे तक चला। फिर सभी ने हैरिटेज बैंकेट द्वारा स्वादिष्ट छप्पन भोग का आनंद लिया। ऐसा संमा बंधा मानो स्वर्ग से स्वयं अप्सराएं धरती पर उतर कर श्याम प्रभु के चरणों में लीन हो गयीं हों। होड़ लगी थी, प्रभु की भक्ति में भाव विभोर होकर झूमने की।
शाम्भवी की अध्यक्ष श्रीमती इन्दु तोमर जी ने बताया शाम्भवी का उद्देश्य ही है अपनी संस्कृति का उत्थान, भक्ति और शक्ति का समन्वय। भोलेनाथ जी और देवी मां के आशीष से श्रीश्याम बाबा के कीर्तन के साथ शाम्भवी का एक वर्ष सफलतापूर्वक पूर्ण हुआ। शाम्भवी ने एक से बढ़कर एक, मनोरंजक, मनभावन, रंगों की छटा से भरपूर कार्यक्रम दिये। उन्होंने शाम्भवी के उत्थान में विशेष सहयोग के लिए 'मेरी दिल्ली' समाचार पत्र का आभार प्रकट किया।
शाम्भवी की महासचिव श्रीमती माधवी गुप्ता जी ने शाम्भवी के सभी सदस्यों को उपहार देते हुए हार्दिक आभार प्रकट किया।
कोषाध्यक्ष श्रीमती मिनाक्षी गोयल जी प्रसाद वितरण किया तथा शाम्भवी के भविष्य में होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी। श्याम बाबा के कीर्तन को सफल बनाने में गुड होम बाई अनीता गुप्ता जी का विशेष सहयोग रहा।
अन्य कार्यकारिणी सदस्यों पूनम गुप्ता, मिनाक्षी पाहवा, सुरेखा महाजन, सुनीता बाजोरिया, अनीता गुप्ता के विशेष सहयोग से शाम्भवी के इस वर्ष के अंतिम कार्यक्रम श्याम प्रभु की आराधना में चार चांद लग गए।
अपने नाम के अनुरूप शाम्भवी ने वर्ष के प्रारंभ में जो वादें अपने सदस्यों से किए थे, पूरे किए। हर बार हर नये कार्यक्रम के साथ सबकी उम्मीदों पर खरे उतरे। शाम्भवी अब एक परिवार बन चुका है।
संवाददाता को विशेष जानकारी देते हुए शाम्भवी द्वारा आगे भी नित-नये, अद्भुत, मनोरंजन, मस्त, जानकारी पूर्ण, अपनी संस्कृति और आधुनिक के मेल की छाप छोड़ने वाले, फैशन, आध्यात्म आदि विषयों पर कार्यक्रम आयोजित करने की बात बताई गयी।
शाम्भवी का नववर्ष का प्रथम कार्यक्रम 7 फरवरी 2019 को आयोजित किया जाएगा जो नववर्ष के नये आनंद से परिपूर्ण होगा।